टिप्पणी करे

शापग्रस्त

Version:1.0 StartHTML:0000000168 EndHTML:0000013820 StartFragment:0000000471 EndFragment:0000013803

एक  कमंडलधारी माथे पर मोटासा तिलक लगाए कहीं जा रहा था. एक कुत्ता सामने से आकर उसपर भौंकने लगा.

मूर्ख! मुझपर भौंकता है. जानता नहीं कि मैं पुजारी हूं. शाप दे दूं तो यहीं भस्म हो जाएगा.’

तुम स्वयं शापग्रस्त हो. फिर मुझे भला क्या शाप दोगे?’ कुत्ते ने हंसकर कहा. पुजारी की त्योरियां चढ़ गईं, जिस दांव से रोज खाताकमाता था वह एक मामूलीसे कुत्ते के सामने व्यर्थ चला गया. परंतु इतनी जल्दी हार मानने वालों में से वह नहीं था. इसलिए अगला दांव चला—

नादान! मुझे शापग्रस्त बताता है. पापी, तू जानता नहीं कि मैं शहर के सबसे बड़े मंदिर का मुख्य पुजारी हूं. रोजाना हजारों लोग मेरे दर्शन के लिए आते हैं.’

हां जानता हूं. सुबहशाम  तुम्हें मुक्ति के लिए ईश्वर  के आगे रोज फरियाद करते हुए भी देखा है.’

मैं प्रार्थना करता हूं….’

अपने उद्धार के लिए….क्यों?’

बिल्कुल!’ कमंडलधारी का सीना गर्व से तन गया.

यह सोचकर कि ईश्वर तुमपर प्रसन्न होगा और तुम्हें तुम्हारे जानेअनजाने में किए पापों से मुक्त कर देगा?’

हां, तू भले ही कुत्ता सही, परंतु है बुद्धिमान.’ कमंडलधारी खुश होकर बोला. उसका चेहरा चमकने लगा. मगर कुत्ते ने उसको बहुत देर तक प्रसन्न होने का अवसर नहीं दिया—

मैं ठहरा कुत्ता. गलियों में भटकने….इधरउधर मुंह मारने वाला. धर्म का गूढ़ अर्थ भला मैं मंदबुद्धि क्या जानूं.’

मैं तुम्हें सब समझा दूंगा. भक्तगण मुझे धर्मावतार भी कहते हैं.’ कमंडलधारी का अहंकार बोला.

तो फिर धर्मावतार जी यह बताइए कि पापग्रस्त होना शापग्रस्त होने से कैसे अलग है? और क्या आपका धर्म एक पापग्रस्त आत्मा को शाप देने की इजाजत भी देता है?’ इतना सुनते ही कमंडलधारी का माथा घूमने लगा. कुत्ता उसकी हालत पर मुस्कराया, बोला—

अपुन का क्या, ना करना डर!’ इतना  कहकर उसने अपनी टांग उठाई, हल्का  हुआ और मजे में आगे बढ़ गया.

Advertisement

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: